Contractor Jee

A dedicated blog related to Construction

Construction site safety rules & tips in hindi | यें करें निर्माण स्थल पे सुरक्षा के लियें!

निर्माण कार्य स्थल पर की जाने वाली विभिन्न सुरक्षा सावधानियां 


निर्माण स्थल (Construction site) खतरनाक स्थान होते हैं जहां श्रमिकों को चोट, बीमारी या मृत्यु हो सकती है। निर्माण भारत में कृषि के बाद दूसरी सबसे बड़ी आर्थिक गतिविधि है। भारत की लगभग 16% कार्यशील आबादी अपनी आजीविका के लिए निर्माण पर निर्भर करती है।

ये खतरे बिजली के झटके या ऊंचाई से गिरने के कारण हो सकते हैं, उपकरण और मशीनों से चोट लगने, चल रहे निर्माण वाहनों की चपेट में आने, धूल, रसायन, आदि जैसे खतरनाक पदार्थ के कारण बीमारी हो सकती है। यहां तक ​​कि लकड़ी के एक टुकड़े में खड़ा एक कील गंभीर घाव का कारण बन सकता है अगर जूतें अच्छे ना हो।

height work safety in hindi

इसलिए कंस्ट्रक्शन साईट पर श्रमिक, सुपरवाईजर, इंजिनियर आदि को सुरक्षा हेतु सरकार द्वारा निर्धारित सुरक्षा नियमों का पता होना चाहिए। निर्माण स्थल पे सुरक्षित वातावरण रखने के लिए, इन टिप्स (Tips) का उपयोग करें।

Various Safety precautions at construction site


1. Heights work safety - ऊँचे जगहों पे काम करने के लिए सेफ्टी का नियम

बहुमंज़िलें ईमारत, ओवरहेड वाटर टैंक, इलेक्ट्रिकल ट्रांसमिशन टावर आदि ऐसे जगह होते है जहाँ काम करना काफी चैलेंजिंग होता है। चाहे आप हर दिन ऊंचाइयों पर काम करते हैं या बस एक बार एक समय में, आपकी सुरक्षा उन समयों के दौरान अत्यधिक महत्वपूर्ण है।

  • Use railing: रेलिंग का उपयोग करें। कार्य करते समय लेबरों को सुरक्षित रखने का सबसे आसान और अनुशंसित तरीका है।
  • Use Personal Fall Arrest Systems (PFAS): यह एक सुरक्षा प्रणाली है जो उपयोगकर्ता को गिरावट के दौरान जमीन, संरचना, या किसी अन्य बाधा से टकराने से रोकती है। इसमें एक बॉडी हार्नेस, लंगर, और कनेक्टर होते हैं।
  • Use nets: जाली का उपयोग करें। यह बिल्डिंग मैटेरियल्स को निचे गिरने से रोकता है जिससे जमीन पे दुर्घटना की संभावना कम रहती है।

2. व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (PPE) का उपयोग करें

इसमें हेमलेट, स्पेशल जुतें, दस्ताने आदि शामिल होतें है। यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने कार्य के लिए सही कपड़े के साथ सुरक्षात्मक गियर पहने। यदि आप फिसलन वाली सतहों वाले क्षेत्र में काम कर रहे हैं, या यदि आप विशेष रूप से भारी वस्तुओं को उठा रहे हैं, तो आपको नॉनस्किड रबर के जूते भी पहनने चाहिए।

यह आपके स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है कि आप कार्यस्थल पर श्वास मास्क पहनें यदि आपके कार्य करने की जगह पे ख़राब वेंटिलेशन या आसपास विषाक्त पदार्थ हो, या यदि आप लगातार धूल या अन्य मलबे से निपटते हो।

3. वाहन की आवाजाही, लोडिंग या अनलोडिंग के दौरान सतर्क रहें

कंस्ट्रक्शन साईटो पर वाहन की आवाजाही के दौरान दुर्घटना हो सकती है इसीलिए हमेशा वाहन की आवाज, साईरन अनसुना ना करें।

कोई भारी सामान लोड या अनलोड करते समय उपकरण के लुढ़कने, समान से कुचलने का खतरा हमेशा बना रहता है। यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि आप जिस रैंप का उपयोग कर रहे हैं वह सीधा और साफ है। आप अपने उपकरणों का संचालन करते समय एक अन्य सहकर्मी को स्पॉट्टर के रूप में उपयोग करें।

4. साईट पे कोई दोष (defects) या चुक हो तो रिपोर्ट करें

यदि आपको कोई समस्या दिखाई देती है, तो उसे अनदेखा न करें, तुरंत अपने सुपरवाईजर को रिपोर्ट करें। अगर प्रबंधन को समस्या के बारे में अवगत कराया गया है तो कार्रवाई जल्दी से जल्दी होती है।

निर्माण श्रमिकों को सुरक्षित कार्य करने के लिए कई भारतीय नियम हैं। मुख्य भारतीय नियम हैं:

  1. भवन और अन्य निर्माण श्रमिक (नियमन और सेवा की शर्तें) अधिनियम, 1996
  2. बिल्डिंग एंड अदर कंस्ट्रक्शन वर्कर्स (रेग्युलेशन ऑफ एम्प्लॉयमेंट एंड कंडीशंस ऑफ सर्विसेज) सेंट्रल रूल्स, 1998, जिसके अंतर्गत निम्नलिखित निर्देश दिया गया है :-

साइट की तैयारी:

एक निर्माण स्थल की तैयारी एक महत्वपूर्ण पहलू है जो साइट पर एक अच्छा लेआउट, साइट तक आसान पहुंच और वाहनों की आसान आवाजाही पर ध्यान केंद्रित कर किया जाना चाहिए।
  • स्कैफोल्ड्स / प्लेटफार्मों के किनारे जहां से लोग गिर सकते हैं, उन्हें डबल गार्ड रेल या अन्य उपयुक्त किनारे सुरक्षा प्रदान की जानी चाहिए।
  • साइट के सभी स्थानों में अच्छी / पर्याप्त रोशनी होनी चाहिए।
  • छेद और गड्ढों में गिरने से रोकने के लिए स्पष्ट रूप से चिह्नित और निश्चित कवर और बैरिकेड्स के साथ संरक्षित किया जाना चाहिए।
  • वाहनों के आसपास पर्याप्त निकासी प्रदान की जानी चाहिए।
  • साइटों पर उपयोग किए गए वाहनों में अलार्म / सायरन होने चाहिए।
  • साइट की सीमा को घेर देना चाहिए, जिससे आम जनता दूर रहे।

साइट संचालन:

एक निर्माण स्थल में किए गए कार्यों / गतिविधियों के प्रकार कई हैं और निर्माण की वस्तु पर निर्भर करता हैं। हालांकि, इन सभी को सुरक्षित संचालन के के लिए कुछ उपाय और तैयारी किया जाना चाहिए। 
  • खुदाई का कार्य 2 मीटर से अधिक गहरा होने पर, रेलिंग या अवरोधों द्वारा संरक्षित किया जाना चाहिए।
  • सुनिश्चित करें कि आपको पता है कि साइट में भूमिगत पाइप और इलेक्ट्रिक केबल की स्थिति कहाँ है, ताकि आप खुदाई के काम के दौरान उन्हें नहीं क्षति पहुंचाएंगे।
  • मचानों का निर्माण (Scaffolding Work) करते समय, श्रमिकों को Fall arrestors और हेलमेट के साथ आवश्यक सुरक्षा बेल्ट पहनना ही चाहिए।
  • बिजली के कार्य (Electrical work) और क्रेन संचालन (Crane Operations) में उपयुक्त व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (PPE), जैसे बिजली के दस्ताने और श्वास तंत्र आदि पहनें।

निष्कर्ष:

उपर बताये गये टिप्स (Construction safety rules) का पालन करके, आप यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आपका निर्माण स्थल सुरक्षित और कुशल स्थान हो। कंस्ट्रक्शन साईट की सुरक्षा के लिए कई और विचार हो सकते है जिन्हें श्रमिकों को सुरक्षा के लिए ध्यान में रखना चाहिए। सुरक्षा हमेशा आपकी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए।

Note: एक श्रमिक (Labour) जो कंपनी के लापरवाही के परिणामस्वरूप बीमार या घायल हो जाता है, मुआवजे के लिए मुकदमा कर सकता है, अगर यह एक गंभीर चोट या बीमारी के रूप में साबित हो।


संबंधित जानकारियाँ-



अगर आपके पास कोई प्रश्न है, तो निचे Comment करें। यदि आप इस आवेदन को उपयोगी पाते हैं, तो इसे अपने दोस्तों के साथ Share करें।

एक टिप्पणी भेजें

2 टिप्पणियाँ