Contractor Jee

A dedicated blog related to Construction

लेबर कांट्रेक्टर कैसे बने | Labour license process in hindi

लेबर लाइसेंस बनाने का प्रोसेस | Labour contractor business


किसी निर्माण कार्य की सफलता विशेष रूप से सुचारू कार्यप्रवाह पर निर्भर करती है और यह केवल उन लेबरों पर निर्भर करती है जो साईट पर काम कर रही होती है। इन दिनों मजदूरों को संभालना और व्यवस्थित करना बहुत कठिन कार्य है।

इसीलिए आजकल किसी भी निर्माण काम के लिए लेबर-कांट्रेक्टर का होना आवश्यक है, जिसके द्वारा लेबर की निरंतर सप्लाई होती रहती है। इसके लिये लेबर कांट्रेक्टर और कोई व्यक्ति या कंपनी जिसे श्रम कार्य की आवश्यकता होती है, साथ में करार कर लेते है।

labour contractor kaise bane

लेबर कांट्रेक्टर का काम - इसमें ठेकेदार, लेबर सप्लाई या आपूर्ति एजेंसी के रूप में कार्य करते हैं। ग्राहक के जरुरत के हिसाब से मजदूर (कुशल या अकुशल) को काम करने की जगह पर उपलब्ध करवाना लेबर कांट्रेक्टर का काम होता है।

एक लेबर कांट्रेक्टर या ठेकेदार ये सेवाएं दे सकता है:

  1. आवश्यकताओं के अनुसार लेबर की अच्छी संख्या
  2. अच्छा परामर्श लेबर कार्य से सम्बंधित
  3. सुपरवाइजर सपोर्ट
  4. सभी आवश्यक लेबर उपकरण
  5. श्रम सुरक्षा

जो लेबर लाइसेंस के लिए पंजीकरण नहीं कराते हैं वैसे कांट्रेक्टर के खिलाफ धारा 36 के प्रावधानों के तहत दंड दिया जा सकता है। सजा में जेल के साथ-साथ जुर्माना भी शामिल है। लेबर सम्बंधित कानून के प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए, सरकार ने 'श्रम सुविधा पोर्टल' शुरू किया है। ठेकेदार इस पोर्टल का उपयोग करके अपने लिये लाइसेंस का आवेदन कर सकते हैं।

लेबर लाइसेंस के ऑनलाइन पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज (Labour license documents) :

  1. कांट्रेक्टर का पहचान पत्र (Address proof)
  2. कांट्रेक्टर का पैन न. (PAN Number)
  3. मोबाइल न. और ईमेल एड्रेस (Mobile Number & email address)
  4. प्रमुख नियोक्ता के बिज़नेस का पंजीकरण प्रमाण-पत्र (Registration certificate of Principal employer)
  5. प्रिंसिपल एम्प्लायर का पहचान पत्र (Address proof)
  6. फार्म-3 (Form-3 from Principal employer)
  7. मोबाइल न. और ईमेल एड्रेस (Mobile Number & email address)
  8. कार्यादेश (Work order)
  9. कार्य का नाम और प्रकृति (Work details)

नोट: प्रमुख नियोक्ता (Principal employer) वो कंपनी होती है जिसे लेबर/मजदूर की जरुरत होती है और जिसके लिए कांट्रेक्टर काम करता है।

यह लाइसेंस 'Contract labour regulation and abolition act, 1970 (CLRA)' के अंतर्गत दिया जाता है।

लेबर लाइसेंस बनाने का प्रोसेस (Labour license online application process in hindi) :


Step 1. श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के आधिकारिक वेबसाइट Shram Suvidha Portal पर जाएं। यहाँ 'Create A Shram Suvidha Account' पे क्लिक करके यूजर आई.डी और पासवर्ड बनाके लॉग-इन करें।


Labour licence Shram Suvidha Portal

इसके बाद होम पेज में 'Registration & License' पर क्लिक करके 'Click Here to Register' पे क्लिक करें।


Step 2. यहाँ 'REGISTRATION' टैब के अन्दर REGISTRATION UNDER CLRA-ISMV-BOCW को चुने। इसके बाद 'Apply for New License' पे क्लिक करके एप्लीकेशन फॉर्म में 'Contractor details' के अंडर पूछे गए विवरण दर्ज करें। 

Labour license online apply

LIN नंबर दे या इसे छोड़ भी सकते है (अगर ये नंबर पता करना हो तो 'Know your LIN' पे क्लिक करके पता करें), इसके बाद कांट्रेक्टर का नाम, ईमेल, संपर्क नंबर, जियो-कॉर्डिनेट आदि डालकर 'Next' पे क्लिक करें।

Step 3. यहाँ 'Principal employer details' के अंडर पूछे गए डिटेल्स बताये। यहाँ पे LIN नंबर Principal employer का दे, इसके बाद प्रिंसिपल एम्प्लायर/कंपनी का नाम, पता, ईमेल, संपर्क नंबर, जियो-कॉर्डिनेट आदि डालकर 'Next' पे क्लिक करें।

Step 4. अब 'Contract Work details' के अंडर पूछे गए विवरण दर्ज करें। इसकी जानकारी वर्क-आर्डर से मिल जायेगी आपको, इसके अलावे लेबर की संख्या, कार्य की प्रकृति आदि डालकर 'Next' पे क्लिक करें।

Step 5. लास्ट में 'Attachments' में फार्म-3, वर्क-आर्डर और others में पैन नंबर आदि 'Choose file' पे क्लिक कर एक-एक करके ऐड करें और निचे 'Save' पे क्लिक कर लें। 

इसके बाद डिजिटल सिग्नेचर या e-sign से आगे की प्रोसेस करनी होती है, ई-साइन में आपको आधार नंबर देना होगा जिसके बाद OTP आयेगा जिसके मदद से आप इसे Submit और Payment कर पाएंगे। पेमेंट के बाद रशीद Pdf में मिलती है जिसे आप डाउनलोड करके सुरक्षित रखें। 


सभी राज्यों के श्रम विभाग के द्वारा भी लेबर लाइसेंस दिया जाता है, जिसके वेबसाइट का लिंक निचे दिया गया है :











संबंधित जानकारियाँ-



अगर आपके पास कोई प्रश्न है, तो निचे Comment करें। यदि आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं, तो इसे अपने दोस्तों के साथ Share करें।

एक टिप्पणी भेजें

21 टिप्पणियाँ

  1. Sir me abhi second year me padh raha hu. Kya me labour contractor ke licence ke lia apply kr sakta hu ?

    जवाब देंहटाएं
  2. Sir mujhe telangna kam karna hai to Labour license vahi ka lena padega

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. आप वहां के सम्बंधित विभाग से लाइसेंस ले अथवा भारत सरकार के 'श्रम एवं रोजगार मंत्रालय' का लेबर लाइसेंस से काम कर सकते है.

      हटाएं
  3. नगर पालिका और नगर निगम में जो सफाई का ठेका होता है उसके लिए जो सफाई कर्मचारी लेबर चाहिए उनके ठेकेदार के लिए लाइसेंस जरूरी है क्या और एक सवाल कि अगर किसी भी कार्यालय या कारखाना फैक्ट्री में या सरकारी दफ्तर में अगर 20 से कम कर्मचारी की जरूरत है तो उसके लिए लाइसेंस अनिवार्य है क्या

    जवाब देंहटाएं
  4. सर मै 10 वी पास विद्यार्थी हु क्या मैं लेबर काँट्रक्ट का लाईसन्स निकाल सकता हु

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. आप लाइसेंस ले तो सकतें है लेकिन जैसा की आप विद्यार्थी है, पहले पढाई पुरी करें और लेबर मैनेजमेंट में कुछ अनुभव हासिल करें.

      हटाएं
  5. Sir mera m.p. me regidence hai aur mujhe gujarat me labour Contrera ka kaam karna hai to licence kaha se banega aur kese banvana hai

    जवाब देंहटाएं
  6. Kya kisi bhi santhan me 10 karmchaari niyojit ho ur us santhan me karmchaariyon ke badane ki sambhaavna ho to kya mai jyada karmchaariyon ka license banwane sakta hu us santhan ke naam par

    जवाब देंहटाएं
  7. Sir mera dairy farm hai to mai kaise labour ko khoji? Kya iske liye bhi labour contractor hote hai?

    जवाब देंहटाएं
  8. Registration certificate of principal employer. kya iske bare me app mujhe kuch bata sakte ho ki ye kaha se banega or kisliye iski jarurat hoti h

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. principal employer ka matlab - wo company/party jise ya jiske kaam ke liye, apko labour supply karni ho. ye wo hi comany issue karega.

      हटाएं
  9. यदि नियोक्ता का रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं है तो क्या लेबर कॉन्ट्रैक्टर का रजिस्ट्रेशन नहीं हो सकता है

    जवाब देंहटाएं